सिटीकिंग परिवार में आपका हार्दिक स्वागत है। सिटीकिंग परिवार आपका अपना परिवार है इसमें आप अपनी गजलें, कविताएं, लेख, समाचार नि:शुल्क प्रकाशित करवा सकते है तथा विज्ञापन का प्रचार कम से कम शुल्क में संपूर्ण विश्व में करवा सकते है। हर प्रकार के लेख, गजलें, कविताएं, समाचार, विज्ञापन प्रकाशित करवाने हेतु आप 098126-19292 पर संपर्क करे सकते है।

BREAKING NEWS:

आई.टी.पी. द्वारा विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया

सिरसा(प्रैसवार्ता)आज बाल दिवस के अवसर पर शहर के कम्प्यूटर शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी संस्थान ज्ञान ज्योति आई.टी.पी. द्वारा टाऊन पार्क के सामने स्थित मुख्य कार्यालय में एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें ज्ञान ज्योति आई.टी.पी. के पंजाब, हरियाणा व राजस्थान में संचालित समस्त सैंटरों के प्रतिनिधियों व स्टाफ ने भाग लिया। इस अवसर पर संस्था के प्रबन्ध निदेशक जे.एस. सिद्ध ने अपने सम्बोधन में विद्यार्थियों को बुनियादी शिक्षा देने का आह्वान किया ताकि बालकपन को स्वयं सोचने, विचारने एवं सृजन क रने की कुशलता का अवसर मिल सके परन्तु हमारी आज की शिक्षा प्रणाली खोजने और सीखने पर कम जबकि सूचना संग्रह पर अधिक केन्द्रित है। परिणामस्वरूप हमारे बालक-बालिकाओं को आत्मनिर्भर बनने एक अलग छवि बनाने के बहुत कम अवसर उपलब्ध हो पाते हैं। श्री सिद्धू ने कहा कि आज हमें यह सोचना अति आवश्यक है कि हम बच्चे की रूचि के अनुसार उसे सीखने के कितने मौके प्रदान करते हैं और इसके विपरीत सूचना का अनावश्यक संग्रह उन पर कितना थोपा जाता है? उन्होंने कहा कि कोई भी विद्यार्थी नालायक नहीं होता, अगर उसकी योग्यता को जागृत कर दिया जाए तो वह भी काबिल बन सकता है आवश्यकता है बच्चे में छिपी प्रतिभा को निखारने की। इस सम्बन्ध में बाल दिवस में उपलक्ष्य में ज्ञान ज्योति आई.टी.पी. द्वारा अपने केन्द्र में 30 नवम्बर तक दाखिला लेने वाले बच्चों के लिए विशेष आर्थिक लाभ देने की घोषणा की गई ताकि निम्न तथा मध्यम वर्ग के विद्यार्थी कम्प्यूटर शिक्षा से वंचित न रह सकें। उल्लेखनीय है कि विकलांग विद्यार्थियों के लिए ज्ञान ज्योति आई.टी.पी. के हरियाणा सहित तीन राज्यों में मुफ्त कम्प्यूटर शिक्षा देने का प्रावधान है। कार्यक्रम के अंत में श्री सिद्धू ने आए हुए समस्त प्रतिनिधियों व स्टाफ का धन्याद किया और ज्ञान ज्योति आई.टी.पी. द्वारा जारी प्रयासों को देशहित में आगे बढ़ाने का आह्वान किया।

Post a Comment